Web Server Kya Hai : वेब सर्वर के प्रकार : Web Server in Hindi

आज के समय में हर दिन इंटरनेट पर हर कोई कुछ ना कुछ जरूर सर्च कर रहा है। जैसे हम गूगल में कुछ भी सर्च करते हैं। और गूगल हमें हमारी सर्च के मुताबिक रिजल्ट लाकर दे देता है। पर क्या आपने कभी यह सोचा है। कि यह सारी इंटरनेट की जानकारियां गूगल कहां से ला कर देता है। और कहां पर यह स्टोर होती है। जब कोई भी यूजर किसी भी तरह की जानकारी को search करता है। तब गूगल search engine हर संबधित वेबसाइट के वेब सर्वर से उस जानकारी को हमारे सामने लाकर रख देता है। चाहे आप किसी भी तरह की जानकारी search कर रहे हो।

तो अब सवाल आता है। की सभी तरह की जानकारी कहां स्टोर रहती है। जहां से गूगल या कोई भी सर्च इंजन हमें यह जानकारी उपलब्ध कराता है। उसका नाम है, वेब सर्वर | तो आज हम Web Server Kya Hai के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा करेंगे।

वेब सर्वर क्या होता है – Web Server in Hindi

Web Server Kya Hai – Web Server In Hindi वेब सर्वर एक तरह का कंप्यूटिंग प्रोग्राम होता है। जोकि किसी भी वेबसाइट द्वारा दिए गए डाटा को हमेशा के लिए Store या संग्रहित रखता है। और जब भी कोई यूजर उस डाटा को प्राप्त करना चाहता है। तो वेब सर्वर के माध्यम से उस जानकारी को खोजकर्ता तक पहुंचाता है।

web server kya hai

वेब सर्वर एक सॉफ्टवेयर प्रोग्राम होता है। इसे दो भागों में विभाजित किया गया है। वेब सर्वर को स्थापित करने वाली मशीन होती है। और दूसरा सॉफ्टवेयर जो वैब सर्वर की तरह कार्य करता है। ये एक हार्डवेयर व दूसरा सॉफ्टवेयर होते हैं। वेब पेज https प्रोटोकॉल द्वारा खोजकर्ताओं तक दिखाए जाते है।आप किसी भी कंप्यूटर में वेब सर्वर का सॉफ्टवेयर को डाल कर और उसे इंटरनेट से जोड़ कर उसे वेब सर्वर में बदल सकते हैं।

लेकिन उन कंप्यूटर को 24 घंटे चलाना असंभव है। और इन लोकल कंप्यूटर server को केवल कुछ देर के लिए सक्रिय रख सकते है। किसी भी वेबसाइट के डाटा को स्टोर और सक्रिय रखने के लिए हमें प्रोफेशनल वेब सर्वर की जरूरत पड़ती है। जो कि 24×7 हर समय चालू रह कर उस पर स्थापित हर वेबसाइट के डाटा को खोजकर्ता यूजर तक आसानी से और किसी समय पहुंचा सके।

Server Meaning in Hindi

सर्वर एक ऐसा Hardware/Software या कोई Computer Program जहाँ इंटरनेट का डाटा सेव होता है और Server ही है जो एक जगह से जानकारी निकाल कर दूसरे Computers को जानकरी और Data Provide करता है। और जब भी कोई यूजर उस डाटा को प्राप्त करना चाहता है। तो वेब सर्वर के माध्यम से उस जानकारी को खोजकर्ता तक पहुंचाता है।

वेब सर्वर कैसे काम करता है 

जब कोई यूजर इंटरनेट पर किसी चीज के बारे में खोजता है। तब वेब सर्वर सर्च इंजन और को दी गई जानकारी के बीच में संपर्क करता है। और उस खोज से संबंधित परिणाम हमें HTTP प्रोटोकॉल के साथ पेश करता है। उदाहरण के लिए हम इसे विस्तार पूर्वक समझते हैं। जैसे कि आपने गूगल पर कोई भी चीज के बारे में सर्च किया आपकी रिक्वेस्ट HTTPS के साथ गूगल के वेब सर्वर में जाएगी और वहां से और गूगल के वेब सर्वर से रिक्वेस्ट उस वेबसाइट के server में जाएगी |

गूगल के वेब सर्वर से होकर उन सभी वेबसाइट्स के web-server में पहुंचेगी। जो जो वेबसाइट पर जानकारी आपकी खोज से संबंधित होगी और गूगल सर्च इंजन उन वेबसाइट के वेब सर्वर में से उस जानकारी को इकट्ठा करके HTTP प्रोटोकॉल के खोजकर्ता के सामने पेश कर देगा और यह पूरा प्रोसेस बहुत ही फास्ट होता है। वेब सर्वर एक तरह का यूज़र और सर्च इंजन तथा जानकारी से संबंधित वेबसाइट के सर्वर के बीच संपर्क कम्युनिकेशन का कार्य करता है।

वेब सर्वर के प्रकार – Types Of Web Server in Hindi

Apache http Server –

दुनिया का सबसे तेज और सबसे प्रसिद्ध वेब सर्वर है। जिसको अपाचे सॉफ्टवेयर फाउंडेशन कंपनी द्वारा लॉन्च किया गया था। आज के समय में लगभग 65% से भी ज्यादा वेबसाइट इस वेब सर्वर का उपयोग करती हैं।

web server in hindi

क्योंकि यह एक ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर है। जिसको किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टम में डालकर या इंस्टॉल करके यूज किया जा सकता है। जैसे कि OS X, MAC, Window, Linux, freebsd आदि इस वेब सर्वर में आप लाइनेक्स कमांड से आप अपनी वेबसाइट को होस्ट कर सकते हैं। अपाचे सर्वर की खासियत है कि इसमें हो होस्ट website अच्छी स्पीड देती है। जोकि यूजर और सर्च इंजन के लिए पॉजिटिव सिग्नल होता है।

Nginx Web Server –

Nginx एक फ्री ओपन source web server हैं। यह वेब सर्वर खासियत यह है कि यह एक अच्छी गति प्रदान करता है। और किसी भी डाटा को स्टोर करने की अच्छी सस्ती कम संसाधनों के साथ प्रदान करता है। यह वेब सर्वर भेजी गई सर्च रिक्वेस्ट के लिए थ्रेड्स का उपयोग नहीं करता है।

Web Server Kya Hai : वेब सर्वर के प्रकार : Web Server in Hindi

बल्कि यह वेब सर्वर सर्च लोड के मुताबिक बहुत कम और अनुमानित मात्रा की अपनी मेमोरी का प्रयोग करता है। इन दिनों टॉप लेवल की जितनी भी web hosting हैं। वह सभी सीसी Nginx वेब सर्वर इस्तेमाल कर रही है। ताकि उन वेब होस्टिंग के उपयोगकर्ताओं को अच्छी स्पीड और सर्विस दे सकें।

Internet Information Services –

IIS एक Microsoft web server है। जो लगभग सभी अच्छी सुविधाएँ यूजर को प्रदान करता है। और यह Apache HTTP सर्वर प्रदान करता है। माइक्रोसॉफ्ट आईआईएस ओपन सोर्स सर्वर नहीं है। जिसकी वजह से आप इसकी कुछ ज्यादा बदलाव नहीं कर सकते हैं।

IIS SERVER

यह हर विंडोज ओएस गैजेट के लिए इस्तेमाल कर सकते है। Microsoft web server किसी भी समस्या के आने पर अपने उपयोगकर्ताओं को ‘ग्राहक सेवा और सहायता’ प्रदान करता है। जिसकी कस्टमर सपोर्ट अच्छी होती है।

Lighttpd Web Server – httpd

ये वेब सर्वर एक लाइट सर्वर के रूप में जाना जाता है। आज के समय में बहुत सी वेबसाइट आज इस सर्वर को काफी मात्रा में इस्तेमाल कर रही है। ये सर्वर में cpu लोड कम होता है। जिसको ऑपरेट करना काफी हद्द तक आसान होता है।

LIGHTTPD SERVER

इस सर्वर को चलाने के लिए कम मेमोरी की जरूरत होती है। और इस वेब सर्वर की गति को हम अपनी जरूरत के हिसाब से बदल सकते है। यह एक ओपन source operating server होता है। जिसको हम कमांड के जरिए चला सकते है।

Apache Tomcat Web Server –

Apache tomcat वेब सर्वर को एक ओंपेन सोर्स की जावा ऐप्स सर्वर की श्रेणी में रखा गया है। जैसे की Jboss, Wildfly Apache, glassfish Apache server इतियादी Apache tomcat सर्वर एक तरह का जावा बेस ओपन स्त्रोत का वेब सर्वर है।

TOMCAT SERVER

जो कि अपनी अच्छी गति और कार्य की क्षमता के लिए जाना जाता है। यह वेब सर्वर डाटा को http के साथ present करने का कार्य करता है।

LightSpeed Web Server –

आज बहुत सी अच्छी होस्टिंग अपने यूजर को LSWS वेब सर्वर में upgrade करने को जोर दे रही है। क्यूंकि ये वेब server अपनी स्पीड और कार्य कुशलता में निपुण है।इस सर्वर में किसी भी वेबसाइट के डाटा को स्टोर करने के लिए कम स्पेस की जरूरत होती है।

litespeed WEB SERVER

और अगर वेबसाइट पर ज्यादा ट्रैफिक से लोड बढ़ता है। तो आप इस वेब server को कुछ ही पलो में अपग्रेड यानी इस वेब server के resource को quickly बढ़ा सकते हैं। कि आपके वेबसाइट के downtime को ना के बराबर करता है।

Oracle I planet Web Server –

जावा सर्वर कई भाषाओं, लिपियों, तकनीकों के आधार पर काम करता  है। जो वेब सर्वर 2.0 के लिए आवश्यक हैं। जैसे PHP, पायथन, आदि। यह एक ओपन सोर्स प्रोग्राम भी नहीं है। जिसका अर्थ है कि आप अपने किसी भी इच्छा से बदलाव नहीं कर सकते है।

iplanet SERVER

सन जावा वेब सर्वर में मल्टी थ्रेडिंग और मल्टी प्रोसेस सिस्टम को संभालने की क्षमता है, और यह सर्वोत्तम डेटा सुरक्षा और कमांड लाइन इंटरफ़ेस सीएलआई को सपोर्ट करता है। जो कि आपके डाटा की सुरक्षा हेतु जरूरी भी है।

Glassfish Web Server  –

ग्लासफ़िश 2006 में सन माइक्रोसिस्टम्स द्वारा बनाया गया था। यह एक ओपन सोर्स जावा ईई एप्लिकेशन वेब सर्वर है, और इस एक्लिप्स फाउंडेशन द्वारा होस्ट किया जाता है। अधिकांश जावा एप्लिकेशन सर्वरों की तरह, ग्लासफ़िश जावा सर्वलेट्स, एंटरप्राइज जावाबीन्स (ईजेबी), और बहुत कुछ का समर्थन करता है, लेकिन यह वेब सर्वर के रूप में भी काम कर सकता है। HTTP अनुरोधों के जवाब में वेब सामग्री की सेवा करता है।

Jigsaw Web Server –

Jigsaw Web server जावा भाषा में लिखा गया है। और यह सीजीआई के साथ php प्रोग्राम को भी Run कर सकता है। जो की एक अच्छी परफॉर्मेंस के लिए जाना जाता है। एक पूर्ण सर्वर नहीं है। और नए वेब प्रोटोकॉल को प्रदर्शित करने के लिए एक प्रयोगात्मक सर्वर के रूप में विकसित किया गया था।

JIGSAW WEB SERVER

यह एक ओपन-सोर्स सॉफ्टवेयर है। जिसका मतलब है। कि हम इसके कोड में अपने आप खुद बदलाव कर सकते है। और किसी भी कोड को अपलोड कर के इस सर्वर के function कों run या रिमूव और बंद कर सकते। इस सर्वर  में हमें खुद का कंट्रोल मिलता है, और सारा काम हम कमांड के जरिए कर सकते है।

CALCULATION

अंत में आप लोगो ने आज Web Server Kya Hai के बारे में जाना है। जिस में हम ने आपके WEB SERVER IN HINDI सवाल का जवाब देने की कोशिश की है। लेकिन हम आप से ये कहना चाहते है। खास कर न्यू ब्लॉग या वेबसाइट क्रिएटर्स के लिए। कि वेब सर्वर एक तरह की machines या सॉफ्टवेयर ही है। कई बार आपकी गलती या सर्वर में खराबी की कमी के कारण आपका वेब सर्वर क्रैश भी हो सकता है।

जिस से आपकी वेबसाइट या ब्लॉग का डाटा टोटल खतम हो सकता है। जिस से आपकी सालों कि मेहनत पर पानी फिर सकता है। तो इस लिए हमेशा अपनी वेबसाइट या ब्लॉग का weekly backup जरूर ले, ताकि कभी भविष्य में ना हो कि आपका कोई सर्वर क्रैश हो आपका सारा डाटा ख़तम हो जाए। आप अपनी होस्टिंग प्रोवाइडर की मदद से बैकअप प्लान ले सकते है। कुछ होस्टिंग ये प्लान होस्टिंग के साथ free of cost भी मिलते है।

अन्य लेख भी पढ़े :-

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!