ON PAGE SEO क्या होता है ? और इसके क्या फायदे है ? ON PAGE SEO कैसे करें

ON PAGE SEO क्या होता है ?

ON PAGE SEO (ऑन-पेज एसईओ या ऑन-साइट एसईओ) सर्च इंजन की खोज और यातायात में सुधार के लिए विशिष्ट कीवर्ड के लिए वेब पेजों को अनुकूलित करने की तकनीक है। इसमें वेब पेज से जुड़े कुछ महतवपूरण कार्य शामिल है जैसे कि – शीर्षक टैग, शीर्षक, सामग्री और कीवर्ड के साथ आंतरिक लिंक को सही तरीके से अनुकूल करना है।  On page seo क्या होता है? ये एक तरह का अपने वेबसाइट या ब्लॉग को search engine में रैंक कराने की technic है।  जिसमें हम अपने साइट और आर्टिकल कंटेंट को search engine के alogorithym के हिसाब से सेटअप करते है। ताकि हमारी साइट या ब्लॉग या पोस्ट अच्छे से कई कीवर्ड पर रैंक हो सके।

आज के जमाने में जब से भारत में 4g launch हुआ है। तब से भारत में ऑनलाइन मतलब डिजिटल का प्रयोग बहुत तेज़ी से हुआ है। और बहुत लोग सोशल मीडिया पर ज्यादातर वक़्त एक्टिव रहते है। जैसे YouTube,Instagram,Facebook,Pinterest, इतियादी है।

इन सब में से एक पॉपुलर प्लेटफॉर्म है। ब्लॉग या वेबसाइट जिसके जरिए लोग ऑनलाइन अपनी कोई services देते है। या ब्लॉग पर अपनी निपुण जानकारियां साझी करते है।
कुछ लोग ब्लॉग अपने शोंख के लिए बनाते है। क्यूंकि उनको लिखना और ज्ञान की बातें लोगो से शेयर करने में दिलचस्पी होती है। जिसको हम personal blogging कहते है। लोगो को सिर्फ लिखना ही होता है। उनका ब्लॉग से और कोई दूसरा मोटिव नहीं होता।

ON PAGE SEO के क्या फायदे है ?

ये एक तरह का अपने वेबसाइट या ब्लॉग को search engine में रैंक कराने की technic है।  जिसमें हम अपने साइट और आर्टिकल कंटेंट को search engine के alogorithym के हिसाब से सेटअप करते है। ताकि हमारी साइट या ब्लॉग या पोस्ट अच्छे से कई कीवर्ड पर रैंक हो सके।

ये ब्लॉगिंग को जो लोग करते है। वो ब्लॉगिंग को अपनी लाइफ में एक कैरियर के रूप में करते है।
जिस से वो ब्लॉगिंग से एक अच्छा इनकम कमा सके, इसलिए प्रोफेशनल ब्लॉगर अपने ब्लॉग के लिए हर वो काम करते है। जिस से उन का ब्लॉग search engine में हाई रैंक कर सके, ताकि ज्यादा से ज्यादा ब्लॉग से पैसा कमा सके,  प्रोफेशनल ब्लॉग को हाई रैंक करने के लिए को (ON PAGE SEO) करना होता है।

वेबसाइट या ब्लॉग का SEO कैसे करें?

जब भी हम अपना कोई ब्लॉग या वेबसाइट बनाते है। तब उसने डिफॉल्ट रूप से बहुत कमिया होती है। चाहे ब्लॉग या वेबसाइट गूगल ब्लॉगर या WordPress पर बनाया हुआ हो।

1 सब से पहले अपनी साइट या ब्लॉग का टाइटल को ऑप्टिमाइज़ कर के लिखें, जो कि SEARCH ENGINE के मुताबिक परफेक्ट हो TITLE की LENTH का जरूर ध्यान रखें।

META DESCRIPTION

2 वेबसाइट या ब्लॉग के लिए एक ऑप्टिमाइज़ META DESCRIPTION लिखें। जिसमे आपके वेबसाइट या ब्लॉग के NICHES से रिलेटेड कीवर्ड MENTION हो, इसमें भी हमें वर्ड LENTH का विशेष ध्यान रखना है। जब आप की साइट या ब्लॉग कोई SEARCH ENGINE में SEARCH करेगा, तो आपके टाइटल के नीचे GREY COLOUR में लिखी कुछ lines META DESCRIPTION कहलाती है। और ये दोनों काम के लिए SEO YOAST PLUGIN से बड़ी आसानी से कर सकते है।

3 अपनी साइट या ब्लॉग की H1 HEADING को परफेक्ट तरीके से ऑप्टिमाइज़ करें। क्यूंकि WordPress में वेबसाइट title ही H1 होता है। जो सिर्फ सारे वेब पेज में एक ही होगा।

4 अपने साइट के लिंक स्ट्रक्चर को भी MAINTED करें। जिसमे पेज पेज इंटरनल लिंक और एक्सटर्नल लिंक दोनों ठीक तरीके से सेटअप करें। इसका आपकी साइट पर रैंकिंग में सीधा फर्क पड़ता है।

THEME OPTIMIZE –

5 अपनी साइट या ब्लॉग पर को भी आप THEME को SET करें।

वो थीम फुल RESPONSIVE होनी चाहिए। अर्थात वो हर डेविस में साइज के हिसाब से फीट बैठे चाहे, वो PC हो या टैब या मोबाइल हो उसको प्रॉपर तरीके कस्टमाइज करे। उसके लेआउट की थोड़ा सिम्पल रखे। ताकि यूजर को पढ़ने या देखने में दिक्कत ना हो।

और हमेशा लाइट थीम ही USE करें। क्यूंकि इस से साइट की स्पीड पर ज्यादा लोड नहीं डालती। जिस से आपकी साइट की स्पीड अच्छी रहती है। जो SEARCH RANKING के लिए एक MAJOR FECTOR है।

6 एक अच्छी होस्टिंग का चुनाव करें। जिसका UPTIME 99.9% तक हो और स्पीड अच्छी हो, ताकि कोई यूजर आपकी साइट पर आए और क्लिक करें। तो आप साइट ता ब्लॉग 1 SEC. में खुलनी चाहिए। जिस से आपका BOUNCE RATE कम रहे। जो की SEARCH ENGINE के लिए पॉजिटिव सिग्नल होगा। और रैंकिंग में मदद मिलेगी।
तो ये BASIC SEO SETTING आप की साइट के MAIN WEB PAGE के लिए थी। जो आप को कभी भी इग्नोर नहीं करनी है।

अब हम बात करेंगे ब्लॉग पोस्ट को रैंक कराने के लिए जरूरी।

POST ON PAGE SEO कैसे करें?

ARTICLE लिखने से पहले वर्डप्रेस में SEO YOAST PLUGIN जरूर इंस्टॉल करके एक्टिव कर ले। और पोस्ट SEO ANALYSIS OPTION को ENABLE कर दें। ताकि जब आप पोस्ट लिखे तब YOAST SEO से रिलेटेड आपके पोस्ट में कमी बताएगा। जिसको ठीक करके आप अपनी पोस्ट का SEO स्कोर improve करते है।

UNIQUE ARTICLE

1 सबसे पहले आपको एक UNIQUE आर्टिकल लिखना जो कहीं से भी कॉपी नहीं करना है। और आपके UNIQUE आर्टिकल की वर्ड lenth 1000 word से 1500 वर्ड होनी चाहिए। आप इस से ज्यादा का लिए वो सबसे से अच्छा है। रैंकिंग के लिए लेकिन इस से कम नहीं लिखना और प्रॉपर जानकारी लिखे जो यूजर के लिए उपयोगी साबित हो और कंटेंट रेगुलर वे में PUBLISH करें, चाहे वो DAILY हो या WEEKLY हो।

2 पूरे आर्टिकल में से और टाइटल में से एक फोकस कीवर्ड सेलेक्ट करें। जिस कीवर्ड पर आप रैंक करना चाहते है। उस टाइटल कीवर्ड को slug अर्थात permalink में भी शामिल करें। और url को ज्यादा बड़ा ना करें।

IMAGE ADD KAREN

3 अपने आर्टिकल में एक से दो image जरूर एड करे। जो आपके आर्टिकल से मिलती है। और आपके आर्टिकल को present करती हो, और इमेज का seo जरूर करें। जैसा की image के टाइटल में और Alt attribute में टाइटल कीवर्ड जरूर लिखे। इस से आपकी पोस्ट रैंक करने ने मदद मिलेगी।

4 इंटरनल लिंक पोस्ट में एक अहम रोल निभाया है। जब भी हम कोई भी पोस्ट लिखे, तो उसमे आपको अपनी उसी कैटेगरी से सम्बन्धित दूसरी पोस्ट का लिंक देना है। जो डायरेक्ट नहीं देना है। anchor text format में देना है। ये seo के लिए बहुत जरूरी फैक्टर है।

EXTERNAL LINK

4 अपनी पोस्ट को रैंक करने के लिए external link भी जरूरी है। इसका मतलब है आप को अपने आर्टिकल में किसी दूसरी high trusted site का लिंक देना होगा। अच्छी वेबसाइट का लिंक आपकी पोस्ट में search engine के crawler के लिए एक पॉजिटिव सिग्नल है। जिस से आपकी पोस्ट के रैंक करने के लिए ज्यादा चांस होते है।

5 आपके पोस्ट के टाइटल में use किए गए कीवर्ड को आर्टिकल से 1st पहराग्रफ में starting में जरूर शामिल करें। और meta descriptions में भी एड करें।

HEADING

6 आर्टिकल लिखते वक्त हमेशा H1, H2, H3, H4 heading जरूर प्रॉपर तरीके से सेटअप करें। क्यूंकि search engine bot के लिए H1 और H2 बहुत ही जरूरी है। क्यूंकि बोट इन्हीं से आपके आर्टिकल को fetch करता है। कि आपका आर्टिकल किसके बारे में लिखा गया गया है। और किस search user को दिखना है।

7 अपनी पोस्ट में हमेशा 3 से 4 आपके टाइटल से related tags use करें। ये पोस्ट रैंक के लिए बहुत जरूरी है। जिस से आपकी पोस्ट अलग अलग कीवर्ड पर रैंक होने कि संभावना बढ़ जाती है। और पोस्ट को टाइटल रिलेटेड कैटेगरी में ही पोस्ट करें।

SOCIAL SHARE

8 अपने ब्लॉग या साइट और पोस्ट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जरूर शेयर करें। जिस से नई वेबसाइट पर starting में ट्रैफिक लिया जा सके, जिस से आप के डोमेन और पेज की अथॉरिटी बढ़ेगी जिस से रैंकिंग में मदद मिलेगी।

9 वेबसाइट के लिए off page seo में वेबसाइट और पोस्ट के लिए है। क्वालिटी बैकलिंक जरूर बनाए, लेकिन हाई अथॉरिटी साइट से ही बनाए ये ऑफ पेज seo का पार्ट है।

अंत में लेख को पढ़ने के लिए शुक्रिया आज इस लेख में हमने ON PAGE SEO के बारे में बताया है। कि ON PAGE SEO क्या होता है? कोई भी सुझाव या प्रश्न हो तो कमेंट बॉक्स में लिखें।

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!