Nikola Tesla biography in hindi | निकोला टेस्ला की Motivational Story In Hindi

Nikola Tesla biography in hindi –

Nikola Tesla biography in hindi निकोला टेस्ला का जन्म 10 जुलाई 1856 को एक सर्बियन परिवार में हुआ उनके माता-पिता मिल्युटिंन टेस्ला और द्युका टेस्ला एक अस्ट्रियन सम्रज्या से संबंध रखते थे। 18 70 मैं टेस्ला ने एक स्कूल में दाखिला लिया और वहां पर गणित में अधिक रूचि दिखाने लगे

टेस्ला के स्कूल के गणित शिक्षक टेस्ला के आंकलन विषयों पर अचंभित होते थे क्योंकि निकोला टेस्ला बिना किसी कागज पेन या किसी डिवाइस के बिना कठिन से कठिन प्रश्न को अपने दिमाग की सहायता से बहुत ही जल्द हल कर देते थे 1870 में निकोला टेस्ला ने ऑस्ट्रियन पॉलिटेक्निक एक संस्थान में प्रवेश प्राप्त किया वहां से इंजीनियर की डिग्री हासिल की निकोला टेस्ला बचपन से ही विज्ञान में अधिक रूचि रखते थे

1881 मैं निकोला टेस्ला ने एक टेलीग्राम कंपनी में नौकरी चालू कर दी जिस कंपनी का नाम था बुडापेस्ट टेलिफोन एक्सचेंज इस कंपनी में नियुक्त होने के बाद निकोला टेस्ला ने केंद्रीय संचार उपकरणों में अनेक सुधार और अविष्कार की टेलीफोन एंपलीफायर को एक मॉडिफाई तरीके से तैयार किया गया जिसका श्रेय निकोला टेस्ला सीधे तौर पर जाता था लेकिन इस प्रोजेक्ट को निकोला टेस्ला ने पेटेंट नहीं कराया

इस कंपनी में 1 साल काम करने के बाद निकोला टेस्ला ने थॉमस अल्वा एडिसन की कंपनी कॉन्टिनेंटल एडिशन कंपनी में नौकरी स्टार्ट की जोकि एक फ्रांस की कंपनी थी और इस कंपनी में निकोला टेस्ला ने डायनेमो इलेक्ट्रिक मशीन आविष्कार किया इसी बीच निकोला टेस्ला थॉमस अल्वा एडिसन के साथ काम करने का भी मौका मिला उसने एडिशन की कंपनी को बहुत विकासशील कंपनियों की लिस्ट में शामिल करा दिया था लेकिन इसी विद्युत प्रणाली को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ जिसके चलते अलग हो गए Nikola Tesla biography in hindi 

Nikola tesla quotes in hindi –

  • “मैं ये अंदाज़ा लगता हूँ कि आप कई महान आविष्कारों के नाम बता सकते हो जो विवाहित लोगों द्वारा पुरे किए गए हों।”
  • “ जितनी नफरत दुनिआ में भरी पड़ी है अगर उसी नफरत को यदि बिजली में बदल दिया जाये तो वह पूरी दुनिया को प्रकाशित कर देगा।”
  • “वर्तमान समय किसी और का है, लेकिन भविष्य का समय मेरा है क्योकि मैंने वास्तव में उसके लिए काम किया है, किसी भी व्यक्ति को स्पष्ट रूप से सोचने के लिए समझदार होना होता है, लेकिन व्यक्ति गहराई से सोच सकता है और पागल भी बन सकता है।”
  • “मुझे सभी चीजों में से किताबे सबसे अच्छी चीज़ लगती है।”
  • “आविष्कार हमारे रचनात्मक मस्तिष्क का सबसे महत्वपूर्ण परिणाम है।”
  • “यहां फेलियर एक विकल्प है, अगर आपकी चीजें फेल नहीं हो रही है तो आप उतना पागलपन और कुछ अलग नहीं कर रहे है।”

 

निकोला टेस्ला के मुख्य पांच अविष्कार | nikola tesla inventions in hindi

रेडियो ट्रांसमिशन इंडक्शन मोटर अल्टरनेटिंग करंट और ना जाने कितने ही ऐसे अविष्कार जिन्होंने इंसान की आपसी जिंदगी को एक रेवोलुशन बना दिया और कहीं साल आगे बढ़ा दिया यूं तो निकोला टेस्ला के नाम पर 700 से ज्यादा अविष्कारों के पैटर्न है जिनसे उन्होंने इस दुनिया को तरक्की के रास्ते पर आगे बढ़ाया लेकिन इनमें से कुछ ऐसे आविष्कार भी थे जो कि बिल्कुल ही अलग तरीके के थे जो अगर बनने दिए गए होते तो आज हमारी यह दुनिया ऐसी होती

जैसी हम आज की साइंस फिक्शन मूवीस में देखते हैं तो चलिए देखते हैं वह पांच अविष्कार जो निकोला टेस्ला के रहस्यमई आविष्कार थे गैस इक्वेशन ऑफ निकोला टेस्ला वास द फोर्स ऑफ द नेम ऑफ एनर्जी निकोला टेस्ला पर काम कर रहे थे जो लगभग ढाई सौ मील की दूरी से ही किसी भी विमान को या समुद्री जहाज को तोड़ कर सकता था अपने गंतव्य पर उन्होंने द न्यूयॉर्क टाइम्स को यह बताया कि वह कुछ समय में ही एक बहुत पावरफुल weapon है उनके साथ सामने आएगी वह पावरफुल weapon था

Nikola tesla death ray in hindi –

क्या था जो मर्करी पार्टिकल्स को एक वेक्यूम चैंबर के अंदर साउंड की स्पीड से भी 48 गुना तेजी से एक्सिलरेट करता हूं और इतनी हाईवे रौशनी से 1:00 पीएम के रूप में फायर करता हूं कि आसमान में चाहे ढाई सौ मील की दूरी पर 10000 प्लेन क्यों ना हो उनको वही डिस्ट्रॉय कर सकता थासिर्फ आसमान में ही नहीं जमीन या समंदर पर भी दुश्मनों के जहाज को खत्म कर सकता था इसकी पावर का अंदाजा लगाते हुए इसे टैग टीम का नाम दिया

उनकी से एक पल में ही हजारों लोग मारे जा सकते थे लेकिन फैसला एक अलग सोच के व्यक्ति थे वह इस दुनिया को एक पीसफुल वर्ल्ड के रूप में देखना चाहते हैं उनका मानना यह था कि अगर हर देश के पास कतरे होगा तो कोई देश एक दूसरे पर हमला नहीं कर सकेगा क्योंकि अगर कोई हमला करता भी तो उनका जहाज दूर से ही नष्ट हो जाएगा लेकिन मिल्ट्री ने उनके इस प्रोजेक्ट में रुचि ना दिखाते हुए एटम बम में रुचि दिखाई इसकी वजह से दुनिया में कितनी तबाही आई है वह हम सब देख रहे है

Nikola tesla earthquake machine in hindi –

1893 न्यूयॉर्क निकोला टेस्ला के नाम एक और पेटेंट हो गया यह था स्टीम पावर मैकेनिकल ओसी लेटर जो बहुत हाई स्पीड से अप एंड डाउन वाइब्रेट करके इलेक्ट्रिसिटी प्रोड्यूस करता था लेकिन निकोला टेस्ला ने बताया कि अपने इससे लेटर के साथ एक्सपेरिमेंट करते हुए एक बार उन्होंने गलती से एक अर्थ क्विक को जन्म दे दिया था जब इसकी टेस्टिंग कर रहे थेतो उन्होंने इसकी फ्रीक्वेंसी को अपने बिल्डिंग में बनी लाइफ की फ्रीक्वेंसी के साथ मैच करके देखा जिसे रिजोनेंस फ्रिकवेंसी कहते हैं

जब निकोला टेस्ला इसकी पावर को लगातार बढ़ाते गए एक टाइम ऐसा आया जब वहां मौजूद हर चीज हिलने लगी और कुछ हवा में उड़ने लगी और कुछ सेटिंग्स में ही पूरी तरह की सावधानी पता चल गया था कि उन्होंने गलती से एक मशीन बना दी है जो बहुत बड़ी तबाही ला सकती है उसे बंद करने की कोशिश करने लगे लेकिन वह मशीन किसी भी तरीके से बंद नहीं हो रही थी अंत में टेस्ला ने उस मशीन को तोड़ने का फैसला लिया और भविष्य में कभी इस मशीन पर बनाने के लिए काम नहीं किया

Nikola tesla wireless electricity in hindi –

1901 लोंग आईलैंड न्यू यॉर्क निकोला टेस्ला ने उस समय के सबसे बड़े इन्वेस्टर्स में से एक जेपी मॉर्गन से $150000 अपने नए प्रोजेक्ट में लगाने के लिए गुजारिश की तब निकोला एक टावर बना रहे थे जिसका नाम Worden cliph tower था इस्लामी मोरगन को यह बताया कि इस टावर का यूज रेडियो ट्रांसमिशंस के लिए किया जाएगा ताकि डाटा को एक जगह से दूसरी जगह भेजा जा सके लेकिन असलियत में वह इस टावर का यूज इससे कहीं बड़े काम के लिए कर रहे थे ए स्लाइस टावर की मदद से इलेक्ट्रिसिटी को वायरलेस भी ट्रांसफर कर सकते थे जिस बिजली को आज हम इतनी बड़ी-बड़ी वायर के साथ एक जगह से दूसरी जगह ट्रांसफर करते हैं

उसे बिना किसी वर्ग के विलियन वोट्स ऑफ़ इलेक्ट्रिसिटी को पास कर सकते थे कंडक्टर की तरह यूज कर रहे थे ताकि अगर कहीं भी बिजली यूज करनी हो तो बस धरती में एक लोहे का रोड लगाना पड़ता जिसमें वह कुछ हद तक कामयाब भी हो चुके हैं उन्होंने 2 मील तक आसानी से बिजली को ट्रांसफर कर दिया था और वह ऐसा हजारों मिल तक भी कर सकते थे फिर भी इस प्रोजेक्ट की फंडिंग जेपी मॉर्गन ने बंद कर दी

क्योंकि उन्हें साथ में यह भी पता चल गया था बिजली बना सकते हैं वह भी फ्री में जिससे उनकी कंपनी से होने वाले प्रॉफिट खतरे में पड़ सकता थाइससे पहले कि यह बनकर तैयार होता 1905 में टेस्ला को इस प्रोजेक्ट को बंद करना पड़ा क्योंकि उनके पास आगे काम करने के पैसे नहीं थे और अपने प्रॉफिट को सिक्योर करने के लिए 1917 में जेपी मॉर्गन ने फ्री इलेक्ट्रिसिटी के हिसाब से सपने को तोड़ दिया और दुनिया प्योर ऑफ एनर्जी को कभी यूज़ नहीं कर सकी

Nikola tesla flying machine in hindi –

निकोला टेस्ला जब से बच्चे थे तब से ही उनको फ्लाइंग मशीन के बिजनेस आते थे दोस्तों टेस्ला अपने समय के साइंटिस्ट और इससे एक कदम आगे थे क्योंकि वह कुछ भी बनाने से पहले उसको अपने माइंड में ही देख लेते थे कहने का मतलब यह है कि वह उस मशीनरी के हर पार्ट को अलग-अलग करके उन्हें कंबाइन करके उसकी वर्किंग देख सकते थे जैसा आजकल इंजीनियरिंग सॉफ्टवेयर से किया जाता है अपनी इस बिजली पावर के कारण कई लोगों को यह लगता है

कि उनका एलियंस के साथ कनेक्शन था जो उन्हें सारी जानकारी देते थे जब वह बड़े हुए दोनों ने अपनी जो भी इलेक्ट्रिकल और मैकेनिकल नॉलेज थी उसके आधार पर एडमिशन का एक नया तरीका दुनिया के सामने रखा सन 1919 के  आर्टिकल  रिकंस्ट्रक्शन में उन्होंने एक सुपरसोनिक एक बात की है जो धरती से लगभग 8 मील ऊपर उठेगा Tesla का मानना यह था

कि अगर किसी चीज को इलेक्ट्रिसिटी का हाई अमाउंट किया जाए तो उसे lift मिलती है जिसे field proposal का नाम दिया गयायह तेजी से काम करता हूं कि न्यूयार्क से लंदन बस 3 घंटे में ड्राइवर हो जाता इसका पावती पर बने बॉर्डर क्लिप टावर होते जो वायलेंस डिपावर ट्रांसलेट कर सकते थे इसमें किसी और की जरूरत ना होती है आज हम रेलवेज में करते हैं

Nikola tesla live brain ideas dedector in hindi –

निकोला टेस्ला मानते थे कि हमारे दिमाग में चल रहे विचारों को एक तस्वीर में उतारा जा सकता है सन 1930 में अपने एक इंटरव्यू में टेस्ला ने एक रिपोर्टर को कहा कि मैं एक ऐसी मशीन बना सकता हूं जो दिमाग में चल रहे विचारों को तस्वीर में उतार सकती है फैसला ने बताया कि इस साल 1893 में अपनी इन्वेस्टिगेशन के दौरान उन्होंने यह पाया कि हमारे दिमाग में चल रहे विचारों की हूबहू नकल हमारे रेटिना में रिफ्लेक्ट होती है जिसको कि बाद में सही अपरेंटिस के साथ रिकॉर्ड करके एक तस्वीर में उतारा जा सकता है अगर ऐसा होता तो दुनिया में किसी के भी विचारों को पढ़ना मुश्किल ना रहता हूं

हमारा दिमाग में खुली किताब जैसा हो जाता लेकिन इससे पहले उनका पूरा होता पूरा होता 7 जनवरी 1943 को निकोला टेस्ला इस दुनिया से चले गए आज भी कई रिसर्च माइंड रीडिंग के तरीकों की खोज करने में लगे हैं वैसे एल्गोरिथ्म खोज रहे हैं जिससे के विचारों को डिकोड किया जा सके निकोला टेस्ला आज के मॉडर्न साइंटिस्ट नहीं आ गए थे जिस कारण उन्हें मैन ऑफ द फ्यूचर कहा जाने लगा था यह बात बहुत कम लोग जानते हैं कि टेस्ला को फेरारे की कुर्सी दी गई थी जो किसी और साइंटिस्ट को नहीं दी गई वायर लैस डाटा ट्रांसफर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जेंट्स और कई तरह की डिटेक्शन डिवाइसेज इन सब की प्रेडिक्शन टेस्ला ने पहले ही करती थी क्योंकि वह फ्यूचर देख सकते थे

Nikola tesla coil for AC Current in hindi –

निकोला टेस्ला में एसी करंट जाने के अल्टरनेटिंग करंट आविष्कार भी किया था जिसका हम आज अपनी जिंदगी के बहुत से उपकरणों में करते हैं जब निकोला टेस्ला एसी करंट का अविष्कार किया। इस प्रोजेक्ट में पार्टनर जेपी मॉर्गन इस करंट की खासियत को देखते हुए अपने डीसी करंट की तुलना में एसी करंट के नुकसान बताएं शुरू कर दिया एसी करंट के नुकसान की खबर पूरी दुनिया में फैलानी शुरू कर दी। क्योंकि जेपी मॉर्गन निकोला टेस्ला के प्रोजेक्ट अपने प्रोजेक्ट से चाहता हुआ नहीं देख सकते थे। कब निकोला टेस्ला में एसी करंट को अपने शरीर में से गुजार कर दिखाया जिससे कि ऐसी करंट के बारे में बताया जा रहे दुष्परिणामों को गलत साबित कर सकें।

CALCULATION – Nikola Tesla biography in hindi

तो दोस्तों इस महान वैज्ञानिक Nikola Tesla biography in hindi के बारे में आपको जानकारी कैसी लगी और उनके आविष्कार आज भी दुनिया में जीवित है। निकोला टेस्ला के बारे में जानकारियां समाचार पत्र और इंटरनेट से मुहैया कराई गई। जिनका उद्देश्य सिर्फ जानकारी प्रदान करना है अगर आपका कोई सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर पूछ सकते हैं या सुझाव दे सकते हैं

Leave a Comment

error: Content is protected !!