मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना 2021 : Online आवेदन कैसे करें, पात्रता

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना हमारे देश में लगभग 2 साल से कोरोना महामारी का कहर छाया हुआ है। जिसके चलते बहुत से लोगों ने इस बीमारी के कारण अपनी जान गवाही है। और इस बीमारी की वजह से देश के अधिकांश भाग में बहुत समय के लिए लॉकडाउन भी लगाया गया। जिससे देश और देश के नागरिकों के रोजगार पर सीधे तौर पर असर दिखाई दिया है। किस बीमारी की वजह से बहुत से परिवार अनाथ और बेसहारा हो गए हैं।

जिसके कारण उन परिवारों को जीवन यापन के लिए बहुत से आर्थिक मुश्किलों से गुजरना पड़ रहा है। ऐसे परिवारों मैं अनाथ बच्चों के लिए मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने एक ही योजना की शुरुआत की है। जिस योजना का नाम है। मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना 2021 इस योजना के अनुसार कोरोना संक्रमण बीमारी के कारण अनाथ हुए बच्चों को सहायता के तौर पर उस राशि दी जाएगी। इस मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना के तहत अनाथ और बेसहारा बच्चों को कि साल की उम्र होने तक राज्य सरकार की तरफ से हर महीने ₹5000 प्रति माह के हिसाब से दिए जाएंगे। और इसके साथ ही उन बच्चों को शिक्षा भी मुफ्त दी जाएगी।

कोविड-19 बाल कल्याण योजना

और इस योजना का सारा खर्च मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। इस योजना का फायदा वही बच्चे उठा सकते हैं। जिनके अभिभावकों की मृत्यु कोविड-19 की वजह से 1 मार्च 2021 से लेकर 31 जुलाई 2021 के बीच हुई है। जिससे कि इस बीमारी की वजह से अनाथ हुए बच्चे अपने जीवन यापन की दिशा में संघर्ष कर सकें। इस योजना को राज्य सरकार द्वारा सुचारू रूप से चलाने के लिए हर जिले में 6 सदस्यों की कमेटी का संगठन बनाया है। जोकि इस योजना को सुचारू रूप से चलाने में भूमिका निभाएगा।

आज हम आपको मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना के बारे में विस्तार पूर्वक बताएंगे। कि यह योजना क्या है? इस योजना से कैसे लाभ प्राप्त करेंगे? इस योजना के लिए आवेदन कैसे करें? और इस योजना के आवेदन के लिए क्या-क्या दस्तावेज चाहिए?

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना 2021 ~ mukhyamantri covid-19 bal kalyan yojana 2021

देश में चल रही करोना संक्रमित महामारी से जिन लोगों की जान गई है। और उनके बच्चे अनाथ हो चुके हैं। जिनको अपने जीवन यापन के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे बच्चों की आर्थिक सहायता के लिए मध्य प्रदेश की राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना 2021 की शुरुआत की है। जिसके चलते इस योजना के तहत उन अनाथ बच्चों को राज्य सरकार की तरफ से हर महीने ₹5000 की राशि दी जाएगी और उनकी शिक्षा का खर्च भी राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

ऐसे बच्चों के लिए राज्य सरकार की तरफ से शैक्षिक संस्थान में दाखिला मुफ्त दिया जाएगा। यह योजना मध्य प्रदेश राज्य सरकार की तरफ से 30 मार्च 2021 से 31 जुलाई 2021 तक ही मान्य होगी। इसी बीच के समय में जिन बच्चों के माता-पिता की कोविड-19 की वजह से मौत हुई है। वही बच्चे जो अनाथ हुए हैं। इस काल में इस योजना के तहत लाभ ले सकते हैं। मध्य प्रदेश राज्य का अपने राज्य के नागरिकों के लिए इस मुख्यमंत्री कोविड-19 जन कल्याण योजना का सृजन एक सराहनीय कदम है।

इसे भी पढ़े

महाराष्ट्र राशन कार्ड योजना –

Mukhyamantri Covid-19 Bal Kalyan Yojana के क्या उद्देश्य है?

मध्य प्रदेश राज्य सरकार की इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन अनाथ बच्चों को सहायता प्रदान करना है। जिन्होंने कोविड-19 में अपने अभिभावकों को खोया है। और अनाथ हो चुके हैं। जिससे उनके पालन पोषण और शिक्षा पर सीधा असर पड़ता है। मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा ऐसे ना तो बच्चों को अपनी आर्थिक जरूरतों को पूरा करने और शिक्षा से संबंधित जरूरतों को पूरा करने के लिए सहायता के तौर पर बच्चों को धनराशि देगी।

बच्चों को अपने जीवन यापन के लिए आ रही मुश्किलों में सहायक साबित होगी। क्योंकि किसी बच्चे का अनाथ होना भी एक बहुत बड़ी दुखदाई घटना होती है। ऐसे बच्चों को अपने आर्थिक जरूरतों को पूरा करने के लिए किसी ना किसी पर आश्रित होना पड़ता है।

कोविड-19 बाल कल्याण योजना के लाभ – benefits of mp covid-19 bal kalyan scheme in hindi

देशभर में जितने भी सरकारी योजनाएं नागरिकों के लिए आती हैं। उनका सीधा लाभ देश या राज्य के नागरिकों के हित में होता है।

  • इसी तरह मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना का लाभ भी मध्य प्रदेश राज्य के नागरिकों के लिए हितकारी साबित होगा इस योजना के मुख्यतः लाभ इस प्रकार हैं।
  • मध्य प्रदेश के स्कूलों और शैक्षिक संस्थानों में कैसे अनाथ बच्चों से केवल ट्यूशन की फीस ली जाएगी और उन बच्चों को छात्रवृत्ति की सुविधा भी दी जाएगी।
  • मध्य प्रदेश राज्य के अनाथ हुए बच्चों को शिक्षा से संबंधित किसी परिवहन खर्च के तौर पर ग्रामीण विद्यार्थी को ₹300 प्रति महीना और शहरी विद्यार्थी को ₹500 पर महीना दिया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ अनाथ हुए बच्चे 21 साल की आयु तक की उठा सकेंगे।
  • योजना के तहत प्राथमिक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक पूरी की पूरी शिक्षा का खर्च इस योजना के तहत सरकार की तरफ से दिया जाएगा।

इस योजना के तहत शिक्षा से संबंधित सुविधाएं

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना के तहत आवेदक की अगर पात्रता पूरी नहीं होती। तब भी सरकार ऐसे बच्चों को राशन और प्राथमिक अवस्था से उच्च शिक्षा तक मुफ्त में शिक्षा प्रदान करेगी।  तहत अनाथ बच्चों को प्राथमिक कक्षा से लेकर आठवीं की कक्षा तक राज्य के प्राइवेट स्कूलों में पढ़ाया जाएगा और नवी कक्षा से लेकर आगे की शिक्षा को सरकारी संस्थानों में पूर्ण कराया जाएगा। ऐसे बच्चों को उत्तर प्रदेश राज्य सरकार की तरफ से 1500 रुपए हर महीने आर्थिक सहायता के रूप मैं दिया जाएगा। और ₹500 प्रति माह के हिसाब से परिवहन भत्ता भी दिया जाएगा।

एमपी कोविड-19 बाल कल्याण योजना के लिए दस्तावेज

मध्य प्रदेश राज्य के जो भी अनाथ बच्चे हैं। जिनके अभिभावकों की मौत 2021 के कोविड-19 काल के समय इस बीमारी के संक्रमित होने से हुई है। मैं अनाथ बच्चे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना का लाभ उठाने के लिए ऐसे बच्चों के पास निम्न प्रकार के दस्तावेज होने जरूरी है। जो इस प्रकार हैं

  • अनाथ हुए बच्चे के अभिभावक की करोना संक्रमित से मृत्यु होने की मेडिकल रिपोर्ट
  • योजना में आवेदक का आधार कार्ड
  • आवेदक का मध्य प्रदेश राज्य का स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • परिवारिक आय का प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • आवेदक की पासपोर्ट साइज फोटो

MP कोविड-19 बाल कल्याण योजना में आवेदन कैसे करें?

अगर इस योजना के तहत मध्य प्रदेश राज्य का नागरिक बच्चा जोकि अपने अभिभावकों को कोरोना महामारी के संक्रमित होने से हो चुका है। यह बच्चे ऊपर दिए गए दस्तावेजों के साथ इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस योजना में आवेदन करने के लिए दो प्रोसेस है। एक मैनुअल किसी कार्यालय में जाकर दूसरा ऑनलाइन

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना मैनुअल ऑफलाइन प्रोसेस

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना में पंजीकरण करने के लिए मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने नगर निगम, सीएमओ ऑफिस, यह अपने किसी नजदीकी पंचायत कार्यालय को गठित किया गया है। जहां पर जाकर आवेदक अपना इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करवा सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक तीन कार्यालय में जाकर कोविड-19 बाल कल्याण योजना का पंजीकरण फार्म लेकर उसको भरना होगा।
    बारे में पूछी की जानकारी सही तरीके से भरनी होगी।
  • उसके बाद इस योजना के तहत लगने वाले दस्तावेज को इस फॉर्म के साथ संगठित करना होगा।
  • और अपने इस योजना के फार्म की पूरी तरह से जानकारी भरने और परखने के बाद इस फार्म को उसी कार्यालय में जमा करवा दें। जिस कार्यालय के द्वारा आपने इस फार्म को दिया था।
  • अब आपकी इस मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना का पंजीकरण हो चुका है।
  • अब कार्यालय के अधिकारी आपके किए हुए आवेदन को सत्यापित करके आगे के प्रोसेस के लिए रख देंगे। जिसकी जानकारी आपको आपके मोबाइल नंबर पर भेज दी जाएगी।

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना ऑनलाइन आवेदन

  • सबसे पहले आवेदक को इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर होम पेज पर जाना है।
  • अब आपके सामने होम पेज पर एक ऑप्शन दिखाई देगा जो आवेदन करें होगा। अब आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा। जिस पर आपको पूछी गई जानकारी को सही तरीके से भरना है।
    जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर ईमेल आईडी और पासवर्ड
  • जानकारी को भरने के बाद आपको रजिस्टर्ड के बटन पर क्लिक करना है। अब आप इस योजना में रजिस्टर्ड हो चुके होंगे।
  • इस वेबसाइट को आगे की प्रोसेस के लिए आपको लॉगइन करना होगा। हम आप लोग इन ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • जैसे कि आप किस वेबसाइट पर लॉगिन करते हैं। आपके सामने मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना 2021 के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • हम आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा। जिसमें आपको बारे में पूछी गई जानकारी सही तरीके से भरनी है।
  • इस बारे में जानकारी भरने के बाद इस योजना के लिए अनिवार्य दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड करना है।
  • सभी तरह की प्रोसेस को करने के बाद आपको नीचे सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
    इस तरह आप मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना मैं पंजीकरण कर सकते हैं। जोकि ऑनलाइन प्रोसेस के माध्यम से होगा।

योजना के आवेदन का स्टेटस देखने की कार्यप्रणाली

अगर किसी आवेदक ने मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना के अंतर्गत आवेदन किया है। और वह अपने स्टेटस को देखना चाहता है। तो इस प्रोसेस से अपने आवेदन की स्थिति को जांच सकते हैं। जो इस प्रकार है।

  • सबसे पहले आवेदक को मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • हम आपके सामने इस वेबसाइट का हूं फिर खुलकर सामने आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको आवेदन देखें का ऑप्शन दिखाई देगा। जिस पर आप को क्लिक करना है।
  • हम आपको लॉगइन के ऑप्शन पर क्लिक करके आपको अपना आवेदन के समय रजिस्टर्ड किया हुआ। मोबाइल नंबर और पासवर्ड भरना होगा और सबमिट के बटन पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने अपने-अपने खुलेगा। जिस पर आवेदन की स्थिति देखे कब ऑप्शन दिखाई देगा। जिस पर आप को क्लिक करना है।
  •  आपको इस पेज पर अपना आवेदन किया हुआ। अप्लीकेशन नंबर भरना होगा और इस नंबर पर भरने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करें।
    आपके सामने मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना के अंतर्गत किए हुए आवेदन का स्टेटस होगा।

Mukhyamantri Covid-19 Bal Kalyan Yojana के लिए जरूरी शर्तें

इस योजना का लाभ लेने के लिए मध्य प्रदेश राज्य सरकार ने दस्तावेजों से संबंधित कुछ शर्तें रखी हुई है। जो इस प्रकार है।

  • इस योजना में आवेदन करने वाला आवेदक मध्य प्रदेश राज्य का मूल रूप से स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदन करने वाले आवेदक की आयु 21 साल से कम होनी चाहिए।
  • आवेदक इससे पहले कोविड-19 कोई भी प्रोत्साहन योजना का लाभ नहीं मिल रहा है।
  • अभी तक की परिवार में अगर किसी को किसी तरह की सरकारी पेंशन पहले से मिल रही हैं। तो वह आवेदक इस योजना के लिए मान्य नहीं है। और इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं।
  • आवेदक के माता पिता की मृत्यु कोविड-19 कॉल में 1 मई 2021 से लेकर 30 जून 2021 के बीच कोरोना संक्रमित के कारण से हुई हो।

मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना की विशेषताएं

  • इस योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश राज्य के कोविड-19 की बीमारी से संक्रमित अभिभावक जिनकी मृत्यु हो चुकी है। उनके अनाथ बच्चों को राज्य सरकार की तरफ से ₹5000 की पेंशन दी जाएगी।
  • योजना के तहत अनाथ हुए बच्चे शिक्षा और खाद्य राशन की सुविधा भी प्राप्त कर सकेंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत वह अनाथ हुए बच्चे भी लाभ उठा सकते हैं। जिनके माता-पिता की मृत्यु कोविड-19 की वजह से संक्रमित इलाज के 2 महीने बाद हुई है।
  • योजना में आवेदन करने वाले लाभार्थियों को प्राथमिक कक्षा से लेकर पीएचडी तक की शिक्षा मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा निशुल्क प्रदान की जाएगी।

हमने मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देने की कोशिश की है। अगर इस योजना से संबंधित कोई भी आपके प्रश्न या किसी तरह की पूछताछ करनी है। तो आप इस योजना की अधिकारीक की वेबसाइट पर जाकर इस योजना के बारे में अपने स्तर पर पूरी तरह से पूछताछ कर सकते हैं।

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!